नैनीताल:माँ नयना देवी व्यापार मंडल द्वारा सादगी से मनाया गया लोहड़ी त्यौहार, सभी के बेहतर स्वास्थ्य और खुशियों की मांगी दुआएं

लोहड़ी पंजाबी और हरियाणवी लोग बहुत उल्लास से मनाते हैं. यह देश के उत्तर प्रान्त में ज्यादा मनाया जाता हैं। लोहड़ी पौष माह की अंतिम रात को एवम मकर संक्राति की सुबह तक मनाया जाता हैं यह  प्रति वर्ष मनाया जाता हैं। आज माँ नयना देवी व्यापार मंडल नैनीताल द्वारा लोहड़ी का त्यौहार कोरोना गाइडलाइंस का अनुपालन करते हुए खड़ी बाजार में मनाया गया।  लकड़ी के ढेर पर अग्नि देकर इसके चारों तरफ परिक्रमा की गई और सभी के लिये दुआयें मांगी।

इस दौरान महेश खन्ना,मोहिनी खन्ना और माँ नयना देवी व्यापार मंडल के अध्यक्ष पुनीत टण्डन,उपाध्यक्ष तरुण कांडपाल रानी कौर,विश्वदीप टण्डन,रोमित साह, जुनैद अहमद,पारुल कपूर,अलका वर्मा इत्यादि लोगो ने आपस मे रेवड़ी ,मूंगफली, पॉपकॉर्न, बांट कर आपसी सभी के लिए खुशियों की दुआएं मांगी,साथ कोरोना महामारी भी दुनिया से खत्म हो इसके लिए सभी प्रार्थना की।
गौरतलब है कि पूरे देश में भिन्न-भिन्न मान्यताओं के साथ लोहड़ी त्यौहार का आनंद लिया जाता हैं। मुख्यतः यह सभी त्यौहार परिवार जनों के साथ मिल जुलकर मनाये जाते हैं, जो आपसी बैर को खत्म करते हैं। लोहड़ी में रबी की फसले कट कर घरों में आती हैं और उसका जश्न मनाया जाता हैं, किसानों का जीवन इन्ही फसलो के उत्पादन पर निर्भर करता हैं और जब किसी मौसम के फसले घरों में आती हैं हर्षोल्लास से उत्सव मनाया जाता हैं।लोहड़ी में खासतौर पर इन दिनों गन्ने की फसल बोई जाती हैं और पुरानी फसले काटी जाती है।