शर्मनाक-ऐसा कैसे कर सकते है ये माँ बाप?पिछले दो सालों से अपने ही बच्चे को 20 कुत्तों के साथ बंद करके रखा था एक कमरे में!बच्चे का व्यवहार भी हो गया कुत्तों जैसा!

महाराष्ट्र के पुणे में स्थित कोंढवा इलाके से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जिसे सुनकर आप भी चौंक जाएंगे।यहाँ पिछले दो सालों से 11 वर्षीय मासूम बच्चे को उसी के माँ बाप ने 20 कुत्तों के साथ एक कमरे में बंद करके रखा हुआ था।पुलिस के सामने ये मामला आते ही पुलिस ने माँ बाप दोनों के खिलाफ मुकदमा दायर कर दिया है।साथ ही एक एनजीओ की मदद से बच्चे का रेस्क्यू भी किया गया।
एनजीओ चाइल्ड लाइन के वॉलेंटियर ने पुलिस को सूचना दी थी कि कोंढवा इलाके में एक फ्लैट के अंदर पिछले दो सालों से एक मासूम बच्चे को 20 कुत्तों के साथ रहने को मजबूर किया गया है ,कुत्तों के साथ रहते रहते बच्चे की हालत भी अब वैसी ही हो गयी है बच्चा भी कुत्तों की तरह व्यवहार करने लगा है।शिकायतकर्ता ने पुलिस को ये भी बताया कि 5 मई को जब वो उस फ्लैट में गए तो वहां एक बच्चा खिड़की में कुत्तों के साथ बैठा हुआ था। उस कमरे से बदबू भी आ रही थी।बच्चा न तो स्कूल जाता है न ही उस कमरे से बाहर आता है।शिकायतकर्ता ने बच्चे के माता पिता से भी इस मामले में बात की और कहा बच्चे को उस कमरे से बाहर निकालो और उसे स्कूल भेजना शुरू करो।लेकिन माता पिता ने ये बात नही मानी। इसके बाद शिकायतकर्ता पुलिस के पास गए और सारे मामले की जानकारी पुलिस को दी।


इसके बाद 9 मई को मौके पर पहुंची पुलिस ने देखा कि उस फ्लैट में माता पिता नही थे किसी काम से बाहर गए हुए थे। पुलिस ने अंदर जाकर देखा तो बच्चा एक कमरेँ में कुत्तों के साथ बंद था। पुलिस ने एनजीओ की मदद से बच्चे का रेस्क्यू किया और बच्चे को तत्काल बच्चों के शेल्टर होम में भर्ती करवाया। एक पुलिस अधिकारी ने मीडिया को बताया कि बच्चे का व्यवहार भी कुत्तों से मिलता जुलता हो गया है ये बेहद अमानवीय घटना है यकीन नही होता कि किसी बच्चे के माता पिता ऐसा भी कर सकते है।
पुलिस ने बच्चे के माता पिता के खिलाफ बाल न्याय अधिनियम 2000 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।फ़िलहाल मामले में किसी की गिरफ्तारी नही की गई है।
आपको बता दें कि बच्चे माता पिता संजय लोधरिया और शीतल लोधरिया कोंढवा के कृष्णा बिल्डिंग में रहते है,यहां उनके घर मे करीब 20 कुत्ते है और जिस कमरे में ये कुत्ते रहते है उसी कमरे में पिछले दो सालों से उन्होंने अपने 11 वर्षीय बच्चे को कुत्तों के साथ बंद करके रखा था।