शर्मनाक ! बार में पुलिस ने मारा छापा, तहखाने से बाहर निकाली अवैध धंधे में लिप्त 17 लड़कियां, बार मालिक हुआ फरार

मुंबई के अंधेरी से चौंका देने वाली ख़बर सामने आई है। यहां एक बार में मेकअप रूम के अंदर बने के सीक्रेट रूम से 17 बार गर्ल्स को बरामद किया है। दरअसल, मुंबई पुलिस की समाज सेवा शाखा के अधिकारी को एक एनजीओ द्वारा शिकायत मिली थी कि बार में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन ना करते हुए भारी भीड़ जमा होती है और रोज़ाना वहां ग्राहक लाखों रुपये लुटाते हैं। जिसके चलते बार पूरी रात खुला रहता है और शिकायत के आधार पर पुलिस ने बार में छापेमारी कर मेकअप रूम के अंदर बने के सीक्रेट रूम से 17 बार गर्ल्स को बरामद किया है।

जब पुलिस ने बार में छापेमारी अभियान चलाया तो बार में एक भी बार गर्ल नहीं दिखाई दी। इसके बाद पुलिस ने बार के बाथरूम, स्टोरेज रूम, किचन और कई अन्य जगहों की तलाशी ली, लेकिन उन्हें बार गर्ल कहीं नहीं मिली, लेकिन कई घंटों तक पुलिस ने बार के कर्मचारियों से कड़ी पूछताछ की लेकिन वहां के स्टाफ ने कहा कि यहां कोई बार गर्ल नहीं है। 

सुबह होते ही समाज सेवा शाखा के डीसीपी भी मौके पर पहुंच गए और एक बार फिर से बार में तलाशी अभियान शुरू किया। जब  मेकअप रूम में पुलिस को संदिग्ध शीशा दिखा, उसके बाद पुलिस ने हथौड़े की मदद से शीशे को तोड़ना शुरू किया, जिसके बाद पुलिस के अधिकारी हैरान रह गए, क्योंकि शीशे के पीछे एक दरवाजा था जिसे रिमोट द्वारा कंट्रोल किया जाता था। पुलिस को एक तहखाना मिला जिसमें आधी रात को सजती थी महफ़िल और उड़ाए जाते थे रूपये। रात को म्यूजिक की धुन व बार बालाओं के साथ नशे की धुन पर थिरकते थे ग्राहक। तहखाने के भीतर चल रहा था अवैध ओर्केस्ट्रा बार लेकिन इस गंदे धंधे पर पड़ गयी पुलिस की नज़र और फिर पड़ा छापा। खंगाला गया तो तहखाने का रास्ता मिला और तहखाने का दरवाजा खुला तो निकली लड़कियां। घटना मुंबई के एक बार की है पुलिस ने खुलासा किया कि तहखाने के पीछे चोर दरवाजा है और उससे सटी एक फैक्ट्री और फैक्टी के बाहर अवैध धंधे में लिप्त ऑटो रिक्शा वाले। बार मालिकों को मालूम था की किसी ना किसी दिन पुलिस की रेड पड़ेगी, लिहाजा पहले से बचने के उपाय किये गए थे। यही वजह है कि बार के मालिक भागने में कामयाब रहे। फिलहाल, पुलिस ने घटना से जुड़े 20 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करते हुए और बार को सील कर दिया है।