AK-47 और हैंड ग्रेनेड बरामदगी के मामले में दबंग MLA को दस साल की मिली सजा!मेटल डिटेक्टर से बचने के लिए AK-47 को प्लास्टिक के थैले में लपेटकर चढ़ाई गयी थी कार्बन की कई परते

बिहार के दबंग और मोकामा विधान सभा सीट से राजद विधायक अनंत सिंह की मुश्किलें बढ़ गयी है उन्हें AK-47 और हैंड ग्रेनेड बरामदगी मामले में पटना में कोर्ट ने दस साल की सजा सुनाई है। एमपी/एमएलए कोर्ट  ने अनंत सिंह को 14 जून को दोषी करार दिया था।एमपी/एमएलए कोर्ट के विशेष जज त्रिलोकी नाथ दुबे ने तीन साल पुराने इस मामले में अनंत सिंह को 10 साल जेल की सजा सुनाई है। 

अनंत सिंह ने लदमा गांव के पैतृक आवास से AK-47 और हैंड ग्रेनेड की बरामदगी मामले में खुद कोर्ट में सरेंडर किया था,इसके बाद से ही अनंत सिंह पिछले 34 महीने से पटना के बेऊर जेल में बंद थे.अनंत सिंह  के घर से तलाशी के दौरान पुलिस ने एक एके-47 राइफल, दो जिंदा हथगोले और एके-47 के 26 जिंदा कारतूस बरामद किए थे।


बताया जाता है कि AK-47 राइफल को झोपड़ी में रखा गया था, जबकि हथगोले उसकी बगल की झोपड़ी से बरामद किए गए थे. छापेमारी के बाद पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया था कि AK-47 राइफल को समान रूप से प्लास्टिक की थैली में लपेटा गया था, जिसके बाद कार्बन की परतें लगाई गई थीं, ताकि मेटल डिटेक्टर्स से बचा जा सके।


गौरतलब है कि पटना पुलिस की एक टीम ने 16 अगस्त 2019 को लदमा गांव में अनंत सिंह के घर पर छापा मारा था और एके-47 के अलावा हैंड ग्रेनेड बरामद किया था. वो घर अनंत सिंह का है, लेकिन वह वहां नहीं रहते और उनकी संपत्ति की देखभाल एक केयरटेकर कर रहा था I