बिग ब्रेकिंग: पाकिस्तान जाकर पढ़ाई करने वालों को भारत में न तो मिलेगी कोई नौकरी न ही मिलेगी उच्च शिक्षा!एडवाइजरी हुई जारी।

भारत पाकिस्तान की हमेशा से ही आपसी तनातनी रही है। अब पाकिस्तान से पढ़ाई करने वालो को भारत मे नौकरी नही मिलेगी। जी हां यूजीसी यानी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और एआईसीटीई ने ऐसे विद्यार्थियों को चेतावनी दी है कि पाकिस्तान से ली गयी कोई भी डिग्री भारत मे मान्य नही होगी पाकिस्तान से डिग्रियां लेकर आये छात्रों को भारत मे नौकरी नही दी जाएगी।

संयुक्त रूप से यूजीसी और एआईसीटीई ने एडवाइजरी जारी की है कि जो लोग पाकिस्तान में जाकर शिक्षा ग्रहण करने का मन बना रहे है उन्हें केवल भारतीय शैक्षणिक संस्थानों से प्राप्त योग्यता के आधार पर ही नौकरी मिल सकती है पाकिस्तान के किसी भी शैक्षणिक संस्थान से प्राप्त की गयी योग्यता के आधार पर भारत मे न तो नौकरी दी जाएगी न ही उच्च शिक्षा मिलेगी, उच्च शिक्षा के लिए भारत से ही पढ़ाई करनी आवश्यक होगी।
ये नए नियम उन लोगो पर मान्य नही होंगे जो पाकिस्तान से भारत आकर बस गए और उन्हें अब भारत की नागरिकता मिल चुकी है। ऐसे लोगो गृह मंत्रालय से पहले अनुमति लेनी होगी उसके बाद ही उन्हें भारत मे कहीं रोजगार मिल सकेगा। 

 


AICTE के अध्यक्ष प्रोफेसर अनिल डी सहस्त्रबुद्धे ने एएनआई को जानकारी देते हुए बताया कि जो अनुभव विदेश में पढ़ने के बाद चीन और यूक्रेन से आया है,उसमे बच्चे अपनी शिक्षा के बीच ही फंस जाते है उन्होंने कहा इसीलिए पैरंट्स को चेतावनी  देना ज़रूरी है।उन्होंने कहा कि आधी शिक्षा के बाद भारत लौटने पर जब उस डिग्री का लाभ नही मिलेगा तो पैरेंट्स के पैसे तो बर्बाद होंगे।