सावधान! कोरोना मानचित्र में दिल्ली एनसीआर हुआ रेड! खतरे की बजने लगी घँटी,लोगो की लापरवाही चौथी लहर को दे रही है दावत

कोरोना की चौथी लहर क्या अब जल्द भारत मे आने वाली है? दिल्ली एनसीआर के ताजे कोरोना आंकड़े तो यही बता रहे है। जी हां! दिल्ली सहित आधे से ज़्यादा एनसीआर में कोरोना फिर अपने पैर पसार चुका है और जब संक्रमण की दर दैनिक मामलों में बढ़ोतरी के साथ लगातार दो हफ्ते तक चलती है तो ये एक नई लहर आने का अलर्ट होता है जो दिल्ली में साफ दिखाई दे रहा है। 14 अप्रैल के बीच देशभर में मिले कोरोना संक्रमितों में से 29 फीसदी संक्रमित लोग दिल्ली एनसीआर में ही दर्ज किए गए है जो एक चेतावनी की तरह दिखाई दे रहे है। अगर लोगो ने लापरवाही करनी नही छोड़ी तो कोरोना की चौथी लहर कुछ ही दिनों में यहाँ आ जायेगी और ये क्षेत्र महामारी का हॉट स्पॉट बन सकता है। 
नई दिल्ली के एम्स में वरिष्ठ डॉ संजय राय ने मीडिया को बताया कि जिस तरह यहाँ संक्रमितों के मामले दर्ज हो रहे है इसे एनसीआर क्षेत्र में कोरोना की नई लहर माना जा सकता है। हालांकि इसके प्रभाव के बारे में फ़िलहाल कुछ नही कहा जा सकता। वही दूसरी तरफ लांसेट कोविड 19 कमीशन इंडिया टास्क फोर्स के सदस्य डॉ गिरधर गिरी का कहना है कि पिछले दिनों दिल्ली,केरल,हरियाणा, महाराष्ट्र और मिजोरम में कोरोना संक्रमण बढ़ा है और अगर बात करे सिर्फ एनसीआर की तो यहाँ पूरे देश के मुकाबले में कोरोना संक्रमण के फैलने में ज़्यादा बढ़ोतरी हुई है। 
विशेषज्ञों की माने तो कोरोना के बढ़ते मामलों के पीछे लोगो की लापरवाही है। मास्क न लगाने पर कोई जुर्माना नही लग रहा,लोग मास्क भूल चुके है।कोरोना पाबन्दियों पर मिली छूट से लोगो की गतिविधियां बढ़ गयी है।सोशल डिस्टेंसिंग अब बिल्कुल नही रही। बाजारों में लोगो की भीड़ संक्रमण को दावत देती है ।